नपुसंकता भगाने के 19 घरेलु उपाय

यह बीमारी अत्यधिक स्त्री सम्भोग , मोटापा बढ़ने या चर्बी बढ़ने , या किसी प्रकार की अण्डकोष सम्बन्धी दुर्घटना या हार्निया , बहुमूत्र आदि के होने से होता है । अधिक शराब पीने या नशा करने वालों में भी नपुसंकता आती है । इस बीमारी में मैथुन शक्ति कमजोर होती जाती है । पुरूष में उत्तेजना खत्म होती जाती है । 



                                                 Photo by Jeffrey Czum from Pexels


नपुसंकता भगाने के 19 घरेलु उपाय 


यह बीमारी अत्यधिक स्त्री सम्भोग , मोटापा बढ़ने या चर्बी बढ़ने , या किसी प्रकार की अण्डकोष सम्बन्धी दुर्घटना या हार्निया , बहुमूत्र आदि के होने से होता है । अधिक शराब पीने या नशा करने वालों में भी नपुसंकता आती है । इस बीमारी में मैथुन शक्ति कमजोर होती जाती है । पुरूष में उत्तेजना खत्म होती जाती है । और लिंग में तनाव नहीं आता यदि आता भी हो तो वह शीघ्र ही खत्म हो जाता है इस बीमारी के कारण कई अन्य मानसिक बीमारियाँ भी हो सकती हैं । 

 इस बीमारी के घरेलू नुस्खे निम्न हैं । 


  1. लहसुन की 6-8 कलियों को छीलकर घी में तलकर पीसकर खायें यह बीमारी दूर करती हैं । कच्ची कलियाँ ( दो ) शहद के साथ भी ले सकत है । 
  2. प्रातः काल गाय के गर्म दूध के साथ तुलसी से बीज और गुड़ बराबर मात्रा में मिलाकर लेने से नपुसंकता दूर होती है । दूध में दो छुआरे और किशमिश डालकर पीयें । 
  3. छोटी पिपली का पाउडर और शहद मिलाकर दूध में पीने से शरीर की ताकत बढ़ती है । 
  4. 10 ग्राम गिलोय सत्त +10 ग्राम गाय का घी मिलाकर सेवन करने से नपुसंकता दूर होती है । 
  5. 25-30 ग्राम लाल प्याज की गाठ को गोदकर शहद में डुबोकर उसका मुरब्बा बनने दें । एक महीने के बाद एक प्याज रोज खायें इससे मर्दानी  शक्ति सौ गुना बढ़ेगी । 
  6. एक किलो गाजर को कद्दूकस करके चार किलो दूध में पकायें जब दूध सूख जाये तो एक पाव गाय का घी मिलायें । यह खाने से मर्दानी ताकत बढ़ती है । 
  7. देशी घी में सिघाडे का आटे का हलवा बनाये तथा हलवे में शहद मिलाकर खायें । मर्दाना ताकत बढ़ेगी । 
  8. त्रिफला का चूर्ण शहद + घी + कांतिसार बराबर मात्रा में मिलाकर रात को खाने से पहले लें । स्तम्भन शक्ति में वृद्धि होगी । 
  9. अश्वगंध और विधरा को बराबर मात्रा में लेकर कूटकर पाउडर बना लें तथा प्रातः काल गाय के गरम दूध के साथ लेने पर शक्ति बढ़ती है। 
  10. मुलहठी और शहद को बराबर मात्रा में लेकर आधा तोले गाय के घी में लेने से और उसके ऊपर दूध पीने से मैथुन शक्ति बढ़ती है । 
  11. सम्भोग के बाद थोड़ी सी सौंठ डालकर ओटाया हुआ दूध पीने से शक्ति आती है । 
  12. अश्वगंध का चूर्ण , घी , शहद और मिश्री मिलाकर प्रतिदिनप्रात : काल लेने पर शारीरिक शक्ति काफी तेजी से बढ़ती है । और बुद्ध भी जवान महसूस करता है ।
  13. एक लीटर दूध में एक तोला सतावर पीसकर डाल दें जब दूध पकत - पकते आधा रह जाये तो मिश्री मिलाकर पीयें इससे कामेच्छा बढ़ती है । और लिंग ढीला नहीं पड़ता । 
  14. तरबूज के बीजों की गिरी तथा मिश्री छ - छ : माशे मिलाकर खाने से शरीर पुष्ट होता है । 
  15. सुखी सकरकन्द कूटकर पावडर बना लें तथा घी और मिश्री के साथ हलवा बनाकर खाने से वीर्य वृद्धि होती है और ताकत बढ़ती है । 
  16. प्याज के रस में शहद मिलाकर चाटने से वीर्य बढ़ता है । 
  17. कौंच के बीजों की गिरी + तालम खाने के बीज बराबर मात्रा में लेकर पीसकर चूर्ण बना लें तथा बराबर मात्रा की मिश्री मिला कर रोज दूध के साथ लें । वीर्यबल बढ़ता है । 
  18. जमीकंद और तुलसी की जड़ दोनों को पान के साथ खाने से वीर्य जल्दी स्खलित नहीं होगा । 
  19. कौंच की जड़ मुँह में रखकर चूसते रहने और सम्भोग करने से जल्दी वीर्य स्खलित नहीं होगा ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां