दाँत दर्द के १७ घरेलू इलाज

दांतों को नियमित रूप से साफ न करने सेपेट में कब्ज एवं वायु के रहने सेभोजन के पश्चात दाँतों में अन्न कण फंसे रहने सेतथा अत्यधिक आईस्क्रीम खाने से दाँतों में दर्द रहता है। दांत हिलने शुरू हो जाते हैं। उसके घरेलू उपाय निम्न लिखित हैं। 

दाँत दर्द के १७ घरेलू इलाज
Photo by Eddie Kopp on Unsplash


दाँत दर्द के १७ घरेलू इलाज

दातों का दर्द


दांतों को नियमित रूप से साफ न करने से, पेट में कब्ज एवं वायु के रहने से, भोजन के पश्चात दाँतों में अन्न कण फंसे रहने से, तथा अत्यधिक आईस्क्रीम खाने से दाँतों में दर्द रहता है। दांत हिलने शुरू हो जाते हैं। उसके घरेलू उपाय निम्न लिखित हैं। .

  1. अदरक और तुलसी के पत्तों का रस दातों पर लगायें।
  2. हींग को पानी में घोलकर उस पानी से कुल्ला करें।
  3. रूई द्वारा लौंग का तेल दर्द वाली जगह लगायें।
  4. सरसों के तेल में 1 चुटकी नमक मिलाकर दाँतो में मलें तथा 25 मिनिट बाद गर्म पानी से कुल्ला करें।
  5. सरसों के तेल में पिसी हुयी हल्दी मिलाकर दाँतों पर मलें इससे दाँतों का दर्द तुरंत ठीक होगा।
  6. दालचीनी, बच, कपूर, हींग, लौंग, जरा सी हल्दी बराबर मात्रा में मिलाकर बारीक चूर्ण बनायें इस चूर्ण को दाँतों पर लगाने से दाँतों का दर्द कम हो जाता है।
  7. गुड़ का शरबत गर्म करके कुल्ला करने पर राहत मिलती है।
  8. बरगद का दूध फाहे में लगाकर दर्द वाली जगह के नीचे दबायें।
  9. जायफल का तेल रूई में भिगो कर दाँतो पर लगायें।
  10. तंबाकु और कालिमिर्च बराबर मात्रा में बारीक पीसकर मंजन की तरह दाँतों पर मलिये।
  11. सरसों के तेल में नमक मिलाकर मंजन करने से मसुड़े भी मजबूत होते हैं।
  12. दाढ़ में दर्द होने पर नमक लगे अदरक के टुकड़े चुसने से आराम मिलता है।
  13. हरे पुदीने को उबाल लें और उबले पानी से (ठंडा करक)कुल्ला करें।
  14. पानी में मेथी उबालकर कुल्ला करने से मसुड़ेमजबूत होते हैं।
  15. प्याज के रस को मसुड़ों पर मलने से मसुड़े मजबूत होते हैं।
  16. फिटकरी के पानी से कुल्ला करने पर मसूड़ों में खून आना बंद हो जाता है। और दांत मजबूत होते हैं। 
  17. मूली के नियमित प्रयोग से दाँत और मसूड़ेदोनों मजबूत होते हैं।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां